April 24, 2024

Chandigarh Headline

True-stories

गृह मंत्री विज ने जनता दरबार में सुनी हजारों फरियादें, कार्रवाई नहीं करने वाले दो सब इंस्पेक्टर लाईन हाजिर और एक का तबादला करने के आदेश

1 min read

अम्बाला, 24 अप्रैल, 2022: हरियाणा के गृह एवं स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज ने अम्बाला छावनी के पीडब्लयूडी रेस्ट हाउस में आयोजित जनता दरबार में हरियाणा के कौने-कौने से आए तीन हजार से ज्यादा प्रार्थियों की शिकायतों को अपने परिचित तलख अंदाज में सुना और अधिकारियों को तीव्रता से इनका समाधान कराने के निर्देश दिए।

जनता दरबार में गृह मंत्री अनिल विज ने अलग-अलग मामलों की जांच में ढिलाई बरतने वाले दो सब इंस्पक्टरों को लाईन हाजिर करने तथा एक सब इंस्पेक्टर का तबादला करने के आदेश भी जारी किए। दरबार के बीच ही अधिकारियों ने तुरंत प्रभाव से गृह मंत्री के आदेशों की पालना करते हुए इन कर्मचारियों के तबादले आर्डर की कापी मंत्री विज को मोबाइल पर भेजी। जनता दरबार में गृह मंत्री ने अलग-अलग मामलों में एसआईटी गठित कर जांच के आदेश दिए जबकि कई मामलों में अलग-अलग जिलों के अधिकारियों को फोन कर कार्रवाई करने के निर्देश दिए। दरबार के दौरान फरियादियों की शाम तक लंबी-लंबी कतारें लगी रही।

‘मेरी जिंदगी का एक ही मिशन, मैं किसी को रोते नहीं देख सकता, चेहरों पर मुस्कान लाना यही प्रयास’ -अनिल विज
गृह एवं स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज ने जनता दरबार फरियादियों की शिकायतों को सुनते हुए कहा कि ‘मेरी जिंदगी का एक ही मिशन है कि मैं किसी को रोते हुए नहीं देख सकता, लोगों की तकलीफ और दुख को दूर करना और उनके चेहरे पर मुस्कान लाना उनके जीवन का मिशन है’। उन्होंने कहा ‘जनता दरबार में सारे हरियाणा से लोग यहां पर आते हैं और उम्मीद लेकर आते हैं, हम काम भी कर रहे हैं, हर शनिवार हजारों के बीच प्रार्थी यहां पर शिकायत लेकर पहुंचते हैं’। गृह मंत्री ने कहा कि देखने में आया है कि जनता दरबार में महिलाओं की संख्या भी अधिक रहती है। उनके घरेलू केस के साथ-साथ वैवाहिक संबंधी केस भी पहुंचते हैं। उन्होंने कहा कि ‘मैनें तमाम पुलिस विभाग को निर्देश दिए हुए हैं कि लोगों की समस्याओं का समाधान उनके जिलों में हों, रोजाना कैंप लगाएं।‘

‘काम न करने वाले अधिकारियों को बख्शा नहीं जाएगा’ :अनिल विज
जनता दरबार के दौरान पत्रकारों से बातचीत करते हुए गृह मंत्री ने कहा कि काम न करने वाले अधिकारियों को किसी सूरत में बख्शा नहीं जाएगा। अगर कर्मचारी या अधिकारी अपना रवैया नहीं बदलेंगे तो कड़ी कार्रवाई की जाएगा और उन्हें काम करना ही होगा। नशे व सट्टा पर रोक लगाने के लिए काम करना होगा। उन्होंने बताया कि गत दिवस अम्बाला छावनी में एक हजार गज में यहां पर ड्रग्स का व्यापार करने वालों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की गई है। सरकार ने सारी जानकारी व नियमों के मुताबिक बुलडोजर से वहां अवैध स्थान को ध्वस्त करने का काम किया है। बेशक यहां से यह शुरूआत हुई है और समूचे हरियाणा में जहां पर भी इस तरह की गतिविधियां पाई जाती है तो वहां पर भी कार्रवाई की जाएगी। एक अन्य प्रश्न का उत्तर देते हुए उन्होंने कहा कि आम आदमी पार्टी कभी सच नहीं बोलती, उसका जन्म तो झूठ से हुआ है।

इन मामलों में कार्रवाई के निर्देश दिए गृह मंत्री अनिल विज ने
जनता दरबार के दौरान तरावड़ी जिले से आई एक बुजुर्ग महिला ने अपनी शिकायत देते हुए बताया कि उसने अपनी बेटी की शादी की है और ससुराल पक्ष के लोग उसे तंग करते हैं, जिसके चलते उसके पेट में पल रहा बच्चा भी मर गया है। उसका आरोप था कि मामले की जांच कर रहे सब इंस्पेक्टर सुखविन्द्र सिंह इस मामले में कोई कार्रवाई नहीं की है। शिकायत सुनते ही गृह मंत्री विज ने मामले में एसआईटी बनाने व पीएनडीटी के तहत केस दर्ज करने के निर्देश दिए। इसके अलावा उन्होंने जांच अधिकारी सुखविन्द्र सिंह को तुरंत लाईन हाजिर करने के निर्देश दिए। उन्होंने प्रार्थी को कहा कि उनके दरवाजे हमेशा खुले हैं।
पलवल जिले के हसनपुर गांव से आई एक महिला ने मारपीट के मामले में शिकायत देने के बावजूद आरोपियों के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं की जा रही। सम्बन्धित महिला ने अपनी शिकायत में यह भी बताया कि आरोपियों का एक रिश्तेदार पलवल पुलिस विभाग में सब इंस्पेक्टर है और वह मामले में कोई कार्रवाई नहीं होने दे रहा। इस मामले में गृहमंत्री ने एसपी पलवल को फोन कर सब इंस्पेक्टर रामबीर डागर का तबादला करने के आदेश जारी किए।

रादौर जिले से आई एक महिला ने अपनी शिकायत देते हुए गृहमंत्री को बताया कि उसके पति का बीते दिनों अपहरण कर लिया गया है। पुलिस में शिकायत देने के बावजूद कार्रवाई नहीं हो रही। रादौर थाने में तैनात एसआई अनिल कुमार मामले में कोई कार्रवाई न करते हुए उनके साथ अभ्रद व्यवहार करता है। इस शिकायत पर भी गृहमंत्री ने कार्रवाई करते हुए एसपी को फोन कर एसआई अनिल कुमार को लाईन हाजिर करने के निर्देश दिए।

कई मामलों में एसटीएफ गठित करने एवं कार्रवाई के निर्देश दिए

जनता दरबार के दौरान यमुनानगर से आए एक व्यक्ति ने अपनी शिकायत में बताया कि उसके बेटे जानू को कुछ लोगों ने रंजिश रखते हुए बेरहमी से उसकी हत्या कर दी थी। मामले में पुलिस द्वारा कोई उचित कार्रवाई नहीं की गई। गृहमंत्री ने मामले को जांच के लिए एसटीएफ को मार्क किया। इसी प्रकार कुरूक्षेत्र से आई एक महिला ने अपनी शिकायत में बताया कि उसके पति ने अपना नाम बदलकर उससे धोखे से शादी की है और पुलिस में शिकायत देने के बावजूद भी कार्रवाई नहीं की जा रही। महिला की शिकायत सुनते ही गृहमंत्री ने एसपी कुरूक्षेत्र को फोन कर मामले की निष्पक्ष जांच करने के निर्देश दिए और कहा कि जिसने भी इस मामले में कौताही बरती है उसके खिलाफ तुरंत कार्रवाई करें और उसकी रिपोर्ट उन्हें दें।

नरवाना से आए एक व्यक्ति ने पटवारी द्वारा इंतकाल न करने बारे, यमुनानगर से आए व्यक्ति ने प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत मकान न मिलने बारे, चरखी दादरी से आए एक युवक ने हत्या के मामले में पुलिस द्वारा कार्रवाई न किए जाने बारे, रादौर से आए व्यक्ति ने उसके बेटे के साथ मारपीट करने वाले व्यक्तियों के खिलाफ कार्रवाई न किए जाने बारे, अटेली मंडी से आए कुछ लोगों ने हत्या के एक मामले में पुलिस द्वारा उचित कार्रवाई न किए जाने बारे, पानीपत निवासी एक व्यक्ति ने पडौसियों द्वारा उसके व उसके परिवार के साथ मारपीट करने के मामले में कार्रवाई न करने बारे, मतलौडा निवासी एक व्यक्ति ने पंचायती जमीन पर अवैध कब्जा संबधी शिकायत पर कार्रवाई न होने बारे तथा अन्य लोगों ने भी अपनी-अपनी शिकायतें गृहमंत्री को देते हुए न्याय की गुहार लगाई।

‘मैं किसी के साथ ज्यादती नहीं होने दूंगा, किसी को रोने नहीं दूंगा’:- अनिल विज

जनता दरबार में के दौरान प्रार्थियों की शिकायत सुनते हुए गृह मंत्री अनिल विज ने कहा कि ‘जब तक मैं बैठा हूँ, किसी के साथ भी ज्यादती नहीं होने दी जायेगी, किसी को रोने नहीं दूंगा, अनिल विज जब लिख देता है उस पर कार्रवाई होती है।‘

करनाल से पैदल चलकर दरबार में पहुंचा फरियादी

करनाल से एक व्यक्ति पैदल चलते हुए जनता दरबार में अपनी शिकायत लेकर पहुंचा, उसकी फरियाद पर कार्रवाई के निर्देश दिए गए। इसके अलावा अन्य मामलों में भी संबंधित अधिकारियों को गृह मंत्री ने कार्रवाई करने के निर्देश दिए। जनता दरबार में प्रार्थियों के लिए पीने के पानी की व्यवस्था के साथ-साथ भोजन की भी व्यवस्था की गई थी ताकि यहां पर आए लोगों को किसी प्रकार की कोई परेशानी का सामना न करना पड़े।

जनता कैंप में गृहमंत्री ने लगभग 6 घंटे से भी ज्यादा समय तक लोगों की समस्याओं को सुना। यहां पहुंचे प्रत्येक प्रार्थी की शिकायत को विस्तारपूर्वक सुना और सम्बन्धित अधिकारियों को शिकायत मार्क करते हुए तीव्रता से कार्रवाई करने के निर्देश दिए। इस मौके पर मंडल प्रधान राजीव डिम्पल, किरण पाल चौहान, रवि सहगल, सुरेन्द्र तिवारी, बलकेश वत्स, बीएस बिन्द्रा, आशीष अग्रवाल, परमिंद्र शर्मा, भरत कोछड़, विकास जैन, अभिकांत वत्स सहित कैंट डीएसपी राम कुमार, डीएसपी जोगेन्द्र शर्मा सहित अधिकारी मौजूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Copyright © All rights reserved. Please contact us on gurjitsodhi5@gmail.com | . by ..